Header Ads Widget

भारतीय पुरुष हॉकी टीम का इतिहास




भारतीय पुरुष हॉकी टीम का इतिहास शुरू से ही अच्छा रहा है,1928 में टीम ने अपना पहला ओलंपिक स्वर्ण पदक जीता था, उसके बाद  और 1956 तक ओलंपिक में भारतीय पुरुष टीम नाबाद रही, भारत का नाम और ऊंचा किया, लगातार छह स्वर्ण पदक जीते। वर्त्तमान में ऑस्ट्रेलिया के ग्राहम रीड भारतीय पुरूष हॉकी टीम के कोच हैं। इसके पहले भारत के हॉकी टीम के हरेन्द्र सिंह कोच नियुक्त थे। भारतीय हॉकी टीम ने अबतक आठ ओलंपिक स्वर्ण पदक जीते है, जो सभी राष्ट्रीय टीमों से अधिक है। एशियाई खेलों में भारतीय टीम ने तीन बार स्वर्ण पदक जीता है। जो कि अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है, पहला स्वर्ण पदक 1966 के बैंकाक (थाईलैंड) एशियाड में भारत ने पाकिस्तान को 1-0 से हरा कर जीता था, जो भारत के लिए यह गर्व का क्षण था, दूसरा स्वर्ण पदक 1998 में बैंकाक में हुए एशियाई खेलों में धनराज पिल्ले की अगुवाई में स्वर्ण जीता था।  तीसरा स्वर्ण पदक भारत ने एशियाई खेल 2014 में पाकिस्तान को पेनल्टी शूट आउट में हराकर जीता। इसके साथ ही टीम ने रियो ओलंपिक 2016 के लिये क्वालीफाई कर लिया। 


अब तक भारत ने इतने स्वर्ण पदक किए प्राप्त


भारतीय राष्ट्रीय पुरुष हॉकी टीम का इतिहास शानदार रहा है, टीम इंडिया ने साल 1928 से लेकर 1956 तक लगातार 6 गोल्ड मेडल्स जीते, इसके बाद टीम ने 2 गोल्ड और अपने नाम किए। वही 2020 टोक्यो ओलंपिक में भारत ने रजत पदक प्राप्त किया।


हॉकी टीम के महान खिलाड़ी कहे जाने वाले खिलाड़ी ध्यानचंद 


भारतीय हॉकी के जादूगर ध्यानचंद ने 16 साल की उम्र में भारतीय सेना जॉइन की थी। वही भर्ती होने के बाद उन्होंने हॉकी खेलना शुरू किया था। ध्यानचंद नियमित रूप से काफी प्रैक्टिस किया करते थे। रात को उनके प्रैक्टिस सेशन को चांद निकलने से जोड़कर देखा जाता। इसलिए उनके साथी खिलाड़ियों ने उन्हें 'चांद' नाम दे दिया।  1928 में एम्सटर्डम में हुए ओलिंपिक खेलों में वह भारत की ओर से सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी रहे। उस टूर्नमेंट में ध्यानचंद ने 14 गोल किए। एक स्थानीय समाचार पत्र में लिखा था, 'यह हॉकी नहीं बल्कि जादू था। और ध्यानचंद हॉकी के जादूगर हैं।'


टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम का जलवा 


हॉकी टीम ने 41 साल बाद ओलंपिक का कोई मेडल जीता है। सेमीफाइनल में भारत को बेल्जियम के हाथों हार मिली थी। ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympics 2020) में भारत की हॉकी टीम ने जर्मनी को 4  - 5 के मुकाबले में पराजित कर रजत पदक प्राप्त कर इतिहास रच दिया है।

today headlines hindi,today news headlines hindi,news in hindi headline,indian hindi breaking news,

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ